मदद का बदले मौत, कत्ल के बाद बॉडी को तेजाब से जला, हैरान करने वाली खौफनाक कहानी, पढ़िए

sb 2 2023 09 15T203407.175 | Sach Bedhadak

Delhi Murder Case: कल्पना कीजिए कि कोई किसी की मदद करता है और वह उस व्यक्ति की हत्या कर देता है। सुनने में अजीब लगता है, लेकिन ऐसा हुआ है। देश की राजधानी दिल्ली में रहने वाली एक महिला की हत्या कर दी गई। महिला का कसूर सिर्फ इतना था कि उसने अपने ऑफिस के सहकर्मी पर भरोसा किया, उसकी मदद की और उसे 11 लाख रुपये उधार दे दिए। उसे नहीं पता था कि उसकी मदद उसे मौत की ओर खींच रही है।

दिल्ली की महिला की नोएडा में हत्या!

ये खौफनाक कहानी शुरू होती है दिल्ली से, लेकिन खत्म होती है नोएडा में जहां एक खौफनाक मर्डर होता है। 8 सितंबर को नोएडा में एक महिला की लाश मिलती है। महिला की गला रेतकर हत्या की गई थी।

शव को तेजाब से जलाने का भी प्रयास किया गया। महिला का चेहरा और गला जला हुआ था। ये शव नोएडा के नॉलेज पार्क में मिला है। शव मिलने से इलाके में सनसनी मच गयी। पुलिस ने जांच शुरू की, लेकिन कुछ पता नहीं चला।

8 सितंबर को मिला था शव

इसी बीच दिल्ली में एक लड़की अपनी मां की गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज कराती है। पुलिस ने जब कड़ियां जोड़ीं तो पता चला कि नोएडा में मिली लाश दिल्ली के अंबेडकर नगर में रहने वाली पिंकी नाम की महिला की थी।

पिंकी रेलवे में नौकरी करती थी। 8 सितंबर को वह नौकरी के लिए निकली, लेकिन वापस नहीं लौटी। जब उनकी मां घर नहीं आई तो बच्चों ने रिपोर्ट दर्ज कराई, लेकिन उन्हें उनकी मां का शव मिला।

मोहम्मद जाकिर ने पिंकी की जान क्यों ली?

अब सवाल ये था कि दिल्ली की इस महिला की हत्या किसने की। महिला को मारकर नोएडा में क्यों फेंका गया? पुलिस ने जांच शुरू की तो पता चला कि महिला उस दिन करीब 2 बजे निज़ामुद्दीन रेलवे स्टेशन से निकली थी, जहां वह काम करती थी।

पिंकी के साथ उसका एक अन्य साथी मोहम्मद जाकिर भी बाहर आया। अब पुलिस जाकिर की तलाश कर रही थी। इससे साफ हो गया कि जाकिर का इस हत्याकांड से कोई न कोई संबंध है। जाकिर भी दिल्ली का रहने वाला है।

चाकू से गला काटा, शरीर को तेजाब से जलाया

आखिरकार एक हफ्ते बाद जब पुलिस ने जाकिर को गिरफ्तार किया तो खुलासा हुआ कि पिंकी की हत्या मोहम्मद जाकिर ने ही की थी। उस दिन जाकिर पिंकी को अपने साथ नोएडा के नॉलेज पार्क ले गया। वहां ले जाकर उसने चाकू से पिंकी का गला रेत दिया। पहचान छिपाने के लिए जाकिर ने पिंकी के शरीर पर तेजाब भी डाल दिया और शव को वहीं छोड़कर भाग गया।

मदद के बदले मिली भयानक मौत

पिंकी ने करीब 2 साल पहले मोहम्मद जाकिर की मदद के लिए उसे 11 लाख रुपये उधार दिए थे, लेकिन अब जाकिर पैसे नहीं लौटा रहा था। पिंकी कई बार अपने पैसे मांग चुकी थी, लेकिन जाकिर उसे लौटाना नहीं चाहता था।

पैसे देने से बचने के लिए इस हत्यारे ने हत्या की साजिश रची और पिंकी को नोएडा ले जाकर खौफनाक मौत दे दी। मोहम्मद जाकिर ने मदद का बदला हत्या से चुकाया। इस घटना को सुनने के बाद हर कोई हैरान है। कोई अपने ही मददगार को कैसे मार सकता है?