Jaipur: राजस्थान वासियों से लिए अच्छी खबर, पेट्रोल पंप डीलर्स की हड़ताल 10 दिनों के लिए स्थगित

sach 1 29 | Sach Bedhadak

Rajasthan Petrol Pump Strike: राजस्थान में पेट्रोल पंप संचालकों की अनिश्चितकालीन हड़ताल के बीच एक बड़ी खबर सामने आ रही है जहां सरकार से वार्ता के बाद पेट्रोल पंप संचालकों ने हड़ताल 10 दिन के लिए स्थगित करने का फैसला किया है. मिली जानकारी के मुताबिक मंत्री प्रताप सिंह खाचरियावास के साथ पेट्रोलियम डीलर्स एसोसिएशन के प्रतिनिधियों ने वार्ता की जिसके बाद समाधान का रास्ता निकला.

खाचरियावास ने कहा कि वैट के आंकलन के लिए एक कमेटी का गठन किया गया है जो 10 दिन में अपनी रिपोर्ट देगी. वहीं बताया जा रहा है कि सरकारी स्तर पर वार्ता के बाद शुक्रवार शाम तक पेट्रोल पंप खुल जाएंगे.

बता दें कि मंत्री खाचरियावास से वार्ता के बाद पेट्रोलियम डीलर्स एसोसिएशन के अध्यक्ष राजेन्द्र सिंह भाटी ने हड़ताल खत्म करने की घोषणा की. उन्होंने कहा कि वैट के आंकलन के लिए एक कमेटी के गठन और समाधान निकालने के आश्वासन के बाद ही हड़ताल स्थगित की गई है.

sach 1 30 | Sach Bedhadak

‘GST के दायरे में लाएं पेट्रोल-डीजल’

वहीं मंत्री प्रताप सिंह खाचरियावास ने पेट्रोलियम डीलर्स एसोसिएशन के साथ वार्ता के बाद कहा कि केंद्र सरकार को पेट्रोल-डीजल को GST के दायरे में लाना चाहिए. वहीं जानकारी के मुताबिक पेट्रोल पंप संचालकों की तीन मांगों पर सहमति बनने के बाद संचालकों ने 10 दिन के लिए हड़ताल स्थगित की है.

दरअसल गुरुवार शाम को राजस्थान में पेट्रोल पंप संचालकों ने 2 दिनों की अनिश्चितकालीन हड़ताल का ऐलान किया था है जिसके बाद शुक्रवार सुबह 6 बजे से प्रदेश में 6 हजार से अधिक पेट्रोल पंपों पर ताला लटक गया था.

वैट को लेकर बनेगी कमेटी

वहीं पेट्रोल पंप डीलर्स एसोसिएशन से बातचीत के बाद सरकार के स्तर पर एक एम्पावर्ड कमेटी का गठन किया गया है जिसमें पेट्रोल पंप एसोसिएशन के भी 3 सदस्य शामिल होंगे.

यह कमेटी वैट के मसले पर अगले 10 दिन में अपनी रिपोर्ट पेश करेगी जिसके बाद ही पंप मालिकों ने हड़ताल वापस ले ली. हालांकि एसोसिएशन ने साफ किया कि अगले 10 दिन में अगर उनकी मांगों पर कोई समाधान नहीं होता है तो वह फिर हड़ताल पर जा सकते हैं.